Tuesday, October 20News That Matters

Tag: Maharashtra

India

Will Help Flood-Hit People In Whatever Way Possible: Uddhav Thackeray

Uddhav Thackeray assured government will provide assistance to the affected people.Mumbai: Maharashtra Chief Minister Uddhav Thackeray on Monday said the threat of flooding due to heavy  rains still persists and assured his government will provide assistance to the affected people in whatever way possible.Talking to reporters in Solapur district after touring some flood-affected villages there, Mr Thackeray said he was in constant touch with local authorities since the heavy rains began because of the retreating monsoon last week.Heavy rains and floods last week claimed at least 48 lives in Pune, Aurangabad and Konkan divisions, while crops on lakhs of hectares were damaged.Mr Thackeray said, "The weather bureau has warned there will be more rains in the coming days. I am here to take s...
Career and Education

MHT CET 2020: Maharashtra Govt to Re-conduct Exams for Students Affected by Rain

Image for representation.Admit cards for the entrance test can be downloaded by the students from the official website at mhtcet2020.mahaonline.gov.in.MHT CET 2020 Re-exam Dates | Maharashtra’s Minister of Higher and Technical Education Uday Samant, in a social media post, announced that the Maharashtra Common Entrance Test Cell will re-conduct the MHT CET 2020 exam for those who could not take it earlier. Students of Maharashtra Common Entrance Test – PCM group and PCB group – who were unable to take the MHT CET 2020 due to the unexpected natural event in the state will be allowed to re-appear according to Samant’s recent tweet.The enrolled candidates will be updated about the new examination dates via SMS and email. Admit cards for the entrance test can be downloaded by the students f...
Career and Education

परीक्षा में सबसे ज्यादा सफल हुए उत्तर प्रदेश के कैंडिडेट्स, महाराष्ट्र दूसरे और राजस्थान का तीसरे नंबर पर रहा, लड़कों से आगे रही लड़कियां

Hindi NewsCareerNEET UG 2020| Uttar Pradesh's Candidates Were The Most Successful In The Exam, Maharashtra Stood Second And Rajasthan Third, Girls Ahead Of Boys16 मिनट पहलेकॉपी लिंकदेशभर के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए आयोजित हुई NEET परीक्षा का रिजल्ट का 16 अक्टूबर को जारी कर दिया गया। इस साल परीक्षा में सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश के कैंडिडेट्स पास हुए हैं। जबकि, महाराष्ट्र दूसरे और राजस्थान का तीसरे नंबर पर रहा। यूपी से इस साल 88,889 कैंडिडेट्स ने परीक्षा पास की। वहीं, महाराष्ट्र के 79,974 और राजस्थान के 65,758 कैंडिडेट्स ने NNET परीक्षा में सफलता हासिल की है। इससे पहले शुरूआती आंकड़ों में त्रिपुरा से सबसे ज्यादा कैंडिडेट्स के नीट उत्तीर्ण होने की बात कही गई थी। लेकिन बाद में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने “ह्यूमन एरर” करार देते हुए सुधार किया है।परीक्षा में शामिल हुए करीब 13.66 लाख कैंडिडे...
India

As Maharashtra Grapples With Crop Crisis, Top Leaders In Flood-Affected Areas

"There is a need to tweak the centre's crop insurance law", Sharad Pawar said.Mumbai: Nationalist Congress Party (NCP) chief and veteran politician Sharad Pawar has backed Maharashtra Chief Minister Uddhav Thackeray amid attack from the opposition on delay in visiting flood-affected areas in the state. While Mr Pawar is already on a tour, the Chief Minister is visiting flood-affected Solapur today."The state will have to borrow to compensate farmers. I will discuss this with the Chief Minister," Mr Pawar told reporters at a press conference at Osmanabad. He has been touring flood-affected areas of Maharashtra and studying crop damage as a result of heavy rain. He is to continue his visit today."There is a need to tweak the centre's crop insurance law", Mr Pawar, 79, said as the state fi...
India

24 घंटे में 55 हजार केस आए, यह 54 दिन में दूसरा सबसे कम आंकड़ा; अब तक 75.48 लाख केस

Hindi NewsNationalCoronavirus Outbreak India Cases LIVE Updates; Maharashtra Pune Madhya Pradesh Indore Rajasthan Uttar Pradesh Haryana Punjab Bihar Novel Corona (COVID 19) Death Toll India Today Mumbai Delhi Coronavirus Newsनई दिल्ली5 मिनट पहलेकॉपी लिंकरविवार को 56 हजार 511 केस आए, 66 हजार 418 मरीज ठीक हुए, 581 की मौत हुईअब तक 66.60 लाख मरीज ठीक हुए, 7.72 लाख का इलाज चल रहा, 1.14 लाख की मौत हुईकोरोना के नए केस लगातार कम हो रहे हैं। रविवार को 56 हजार 511 केस आए, 66 हजार 418 मरीज ठीक हुए और 581 की मौत हो गई। बीत दो महीने में नए केसों का दूसरा सबसे कम आंकड़ा है। इससे पहले 24 अगस्त को 59 हजार 696 केस आए थे। 12 अक्टूबर को 54 हजार 262 केस आए। बीते तीन महीने में छठी बार 60 हजार से कम केस आए हैं।3 महीने में छठी बार 60 हजार से कम केस आएतारीख केस10 अगस्त 5301616 अगस्त 5809617 अगस्त 5429824 अगस्त ...
India

“Huge Crisis”: Sharad Pawar On Maharashtra Floods

Sharad Pawar asked farmers not to give up hope.Mumbai: Nationalist Congress Party chief Sharad Pawar on Sunday said the agriculture losses due to the recent floods in parts of western Maharashtra and Marathwada were "unprecedented" and assured expeditious financial help to the affected farmers.Addressing a meeting of farmers in Tuljapur-Paranda area of Osmanabad district in Marathwada, the former Union agriculture minister assured them that he would discuss the issue of financial relief with Chief Minister Uddhav Thackeray and also seek assistance from the Centre.Heavy rains and floods claimed at least 48 lives in Maharashtra's Pune, Konkan and Aurangabad divisions while crops on lakhs of hectares were damaged extensively due to heavy rains in the last few days, officials said on Friday...
Corona

महाराष्ट्र: गवर्नर कोश्यारी ‘विवादित पत्र’ पर बोले शाह- ऐसे शब्दों से बचा जा सकता था

नई दिल्ली:  हाल ही में महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी द्वारा सीएम उद्धव ठाकरे को एक विवादास्पद पत्र लिखा गया था. दरअसल महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने सीएम ठाकरे पर अपने पत्र में सवाल खड़े करते हुए लिखा था, 'कि क्या वह सेक्युलर हो गये हैं'.  वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में इस पत्र को लेकर कहा कि,  कोश्यारी अपने शब्दों का सही प्रकार से इस्तेमाल कर सकते थे और इस तरह के शब्दों का चयन करने से बच सकते थे.कोश्यारी ने व्यंगात्मक पत्र लिखा थाबता दें कि कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र में मंदिरों को फिर से खोलने को लेकर राज्यपाल कोश्यारी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को 'हिंदुत्व का मजबूत समर्थक' बताते हुए एक व्यंगात्मक पत्र लिखा था. इस पत्र में उन्होने लिखा था कि ये जानकर बेहद हैरानी हो रही है कि क्या मुख्यमंत्री को 'पूजा क...
India

आज 75 लाख के पार होंगे केस, 66 लाख मरीज ठीक हुए; मौत का आंकड़ा 15 दिन बाद फिर 1000 के पार; अब तक 74.92 लाख संक्रमित

Hindi NewsNationalCoronavirus Outbreak India Cases LIVE Updates; Maharashtra Pune Madhya Pradesh Indore Rajasthan Uttar Pradesh Haryana Punjab Bihar Novel Corona (COVID 19) Death Toll India Today Mumbai Delhi Coronavirus Newsनई दिल्ली3 मिनट पहलेकॉपी लिंकशनिवार को 61 हजार 893 केस आए, 72 हजार 583 मरीज ठीक हुए और 1031 की मौत हुईअब तक 65.94 लाख मरीज ठीक हुए, 1.14 लाख की मौत, 7.83 लाख का इलाज चल रहादेश में कोरोनावायरस के मरीजों का आंकड़ा 74.92 लाख हो गया है। आज यह 75 लाख के पार हो जाएगा। अब तक 65.94 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 1.14 लाख जान गंवा चुके हैं। शनिवार को 1031 संक्रमितों की मौत हो गई। 2 अक्टूबर के बाद पहली बार एक दिन में मौत का आंकड़ा 1000 के पार गया।हालांकि, राहत की बात है कि इलाज करा रहे मरीजों की संख्या आठ लाख से नीचे आकर 7.83 लाख पर पहुंच गई है। यह पिछले महीने 16 सितंबर को 10.1...
India

लगातार छठवें दिन 70 हजार से कम केस आए, 13 राज्यों में 90% से ज्यादा मरीज ठीक हुए; यह नेशनल एवरेज से भी ज्यादा; अब तक 74.29 लाख केस

Hindi NewsNationalCoronavirus Outbreak India Cases LIVE Updates; Maharashtra Pune Madhya Pradesh Indore Rajasthan Uttar Pradesh Haryana Punjab Bihar Novel Corona (COVID 19) Death Toll India Today Mumbai Delhi Coronavirus Newsनई दिल्ली7 मिनट पहलेकॉपी लिंकशुक्रवार को 62 हजार 104 केस आए, 70 हजार 386 मरीज ठीक हुए, 839 की मौत हुईदेश में अब तक 65.21 लाख मरीज ठीक हुए, 7.94 लाख का इलाज चल रहादेश में कोरोना के आंकड़े लगातार राहत देने वाले आ रहे हैं। शुक्रवार को 62 हजार 104 केस आए तो 70 हजार 386 मरीज ठीक हो गए। 839 की मौत हुई। एक्टिव केस घटकर आठ लाख से नीचे आ गए हैं। अब देश में कुल 7 लाख 94 हजार मरीजों का इलाज चल रहा है। 13 राज्य ऐसे हैं, जहां 90% से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं, जो नेशनल एवरेज 87.8 से ज्यादा है। बाकी राज्यों में भी यह आंकड़ा 80% के आसपास या उससे ऊपर है।इन राज्यों में रिकवरी रेट 90%...
India

3 से 12 साल उम्र के 4 सगे भाई-बहनों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या; मां-पिता मजदूरी करते हैं, अभी मध्य प्रदेश गए हैं

जलगांव14 मिनट पहलेकॉपी लिंकहत्या की वजह और आरोपियों के बारे में अभी जानकारी नहीं। पूरे गांव को सील कर लोगों से पूछताछ की जा रही है।महाराष्ट्र के जलगांव में एक ही परिवार के 4 बच्चों की कुल्हाड़ी के काटकर हत्या कर दी गई। मृतकों में 2 लड़के और 2 लड़कियां हैं। इनकी उम्र 3 से 12 साल है। चारों के शव खेत में मिले हैं। घटना का खुलासा शुक्रवार सुबह हुआ, जब एक किसान ने खेत में शव देखे। बच्चों के माता-पिता मूल रूप से मध्यप्रदेश के खरगोन के रहने वाले हैं और अपने पैतृक गांव गए हैं।वारदात की वजह का खुलासा नहींघटना जलगांव की रावेर तहसील के बोरखेड़ा गांव की है। मृतकों में सुमन (3), अनिल (8), रावल (11) और सरिता (12) शामिल हैं। जांच में पता चला है कि इनके मां-पिता एक खेत में काम करते थे। बच्चों को अकेले छोड़ वे मध्य प्रदेश में अपने पैतृक गांव गए थे। पीछे से किसी ने बच्चों की हत्या कर दी। वारदात की वजह और आ...