Wednesday, May 12News That Matters

Tag: COVID-19

World

कोरोना दुनिया में: WHO ने कहा- अब तक 44 देशों में फैल चुका इंडियन वैरिएंट; ब्रिटेन इससे सबसे ज्यादा प्रभावित

Hindi NewsInternationalCoronavirus Outbreak Vaccine Latest Update; USA Brazil Russia UK France Cases And Deaths From COVID 19 VirusAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐपजेनेवा15 मिनट पहलेकॉपी लिंकवर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने बुधवार को बताया कि भारत में कोरोना के मामले में विस्फोटक बढ़ोतरी करने वाला वैरिएंट अब तक दुनिया के 44 देशों में फैल चुका है। हेल्थ एजेंसी ने कहा कि भारत में पिछले साल अक्टूबर में मिला B.1.617 वैरिएंट WHO के सभी 6 रीजन के देशों में पहुंच चुका है। इसके अलावा हमें 5 अन्य देशों से भी इसकी जानकारी मिली है। भारत के अलावा इस वैरिएंट का सबसे ज्यादा असर ब्रिटेन में देखा गया।मूल वायरस से ज्यादा खतरनाक : WHOWHO के मुताबिक, इंडियन वैरिएंट के अलावा ब्रिटेन, ब्राजील और साउथ अफ्रीका में कोरोना वैरिएंट चिंता का सबब बने हुए हैं। यह वैरिएंट ओरिजिनल ...
Corona

Google कर रहा है Maps के नए फीचर की टेस्टिंग, मिल सकेंगे बेड्स और ऑक्सीजन के अपडेट

देश में कोविड -19 महामारी की घातक दूसरी लहर के बीच गूगल एक नए फीचर की टेस्टिंग कर रहा है. गूगल ने सोमवार को कहा कि वह गूगल मैप्स (Google Maps) में एक फीचर टेस्ट कर रहा है जिससे लोगों को बेड्स और मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता के बारे में जानकारी मिल सकेगी. इसके जरिए लोग जानकारी शेयर भी कर सकेंगे.भारत दूसरी लहर में कई राज्यों के अस्पताल, मेडिकल ऑक्सीजन और  बेड्स  की कमी से जूझ रहे हैं और सोशल मीडिया पर लोग ऑक्सीजन सिलेंडर, अस्पताल मे बेड्स, प्लाज्मा डोनर्स और वेंटिलेटर के लिए मदद मांग रहे हैं. ऐसे में गूगल मैप्स का यह फीचर कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में काफी उपयोगी साबित हो सकता है.    जानकारी के इस्तेमाल से पहले करना पड़ सकता है वैरीफाई कंपनी ने कहा कि" हम मैप्स में Q & A फ़ंक्शन का इस्तेमाल करते हुए एक फीचर का टेस्ट कर रहे हैं, जो लोगों को चुनिंदा स्थानों में बेड और मे...
Corona

कोरोना की रोकथाम के लिए योगी सरकार का WHO वाला फॉर्मूला, ग्रामीण इलाकों में की लोगों की स्क्रीनिंग

<p style="text-align: justify;">कोरोना की दूसरी लहर को थामने के लिए यूपी की योगी सरकार ने एक बड़ा अभियान चलाया है. हफ्ते भर की इस मुहिम में मेडिकल टीम ने एक लाख गांवों का दौरा किया. विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO की मदद से ग्रामीण इलाकों में लोगों की स्क्रीनिंग की गई.</p> <p style="text-align: justify;">बताया जा रहा है कि, इस दौरान ग्रामीण लोगों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली गई. टेस्टिंग, ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग के फॉर्मूले से योगी सरकार की तैयारी कोरोना के संक्रमण को रोकने की है. अगर ये बीमारी गांवों तक पहुंच गई फिर तो तबाही तय मानिए. यूपी के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ जब कोविड पॉजिटिव थे उन्होंने इस खतरे को भांप लिया था.</p> <p style="text-align: justify;"><strong>5 मई से लेकर 11 मई तक राज्य भर में ये कैंपेन...
Corona

AMU में 20 दिनों के भीतर 44 की कोरोना से मौत, 26 प्रोफेसर्स भी शामिल

<p style="text-align: justify;"><strong>नई दिल्ली:</strong> अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में केवल 20 दिनों के भीतर 44 व्यक्तियों की कोरोना से मौत हो चुकी है. इनमें 26 प्रोफेसर्स भी शामिल हैं. कोरोना के कारण मरने वाले इन प्रोफेसर्स में 16 वर्किंग और 10 रिटायर्ड फैकल्टी हैं. यूनिवर्सिटी ने संदेह जताया है कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में कोरोना का कोई नया वेरिएंट हो सकता है.&nbsp;</p> <p style="text-align: justify;">एएमयू के कुलपति तारिक मंसूर के भाई की भी कोरोना से मौत हो चुकी है. कुलपति ने यहां से लिए गए सैंपल की जांच के लिए आईसीएमआर से आग्रह किया है. एकत्र किए गए इन सैंपल को जांच के लिए दिल्ली में सीएसआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ जिनॉमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायॉलजी भेजा गया है. वाइस चांसलर तारिक मंसूर ने आईसीएमआर को नमूनों की जांच के लिए एक पत्...
Corona

2 से 18 साल वालों के लिए भारत बायोटेक की वैक्सीन के फेज 2/3 के ट्रायल की सिफारिश

देश में कोरोना के खिलाफ इस जंग में अब बच्चों के लिए एक अच्छी खबर जल्द सुनने को मिल सकती है. दरअसल, एक एक्सपर्ट समिति ने बीते दिन बताया कि उसने 2 साल के उम्र के बच्चों से 18 साल के उम्र तक के बच्चों के लिए भारत बायोटेक की कोविड-19 टीके कोवैक्सीन के ट्रायल की दूसर/तीसरे चरण के लिए सिफारिश की है.भारत बायोटक कंपनी ने दूसरे/तीसरे चरण के ट्रायल की सिफारिश कीअधिकारिक सूत्रों की माने तो ये ट्रायल दिल्ली व पटना के एम्स और नागपुर स्थित मेडिट्रिना मेडिकल साइंस इंस्टीट्यूट समेत अन्य कई जगहों पर किया जाएगा. बता दें, केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन की कोविड विषय विशेषज्ञ समिति ने उस आवेदन पर विचार किया जिसमें भारत बायोटेक की तरफ से 2 साल से 18 साल की उम्र के बच्चों के लिए परीक्षण के दूसरे/ तीसरे चरण की अनुमति देने की बात की गई थी. Bharat Biotech's COVID-19 vaccine Covaxin ...
Corona

म्यूकोरमाइकोसिस को लेकर बोले महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, कहा-हो सकते हैं 2000 से ज्यादा मामले

<p style="text-align: justify;"><strong>मुंबईः</strong> महाराष्ट्र सरकार ने म्यूकोरमाइकोसिस (कवक संक्रमण) के मामलों का इलाज करने के लिए मेडिकल कॉलेज से जुड़े अस्पतालों का उपयोग करने का फैसला किया है जोकि कोविड-19 मरीजों को प्रभावित कर रहा है. हालांकि, इसके कम ही मामले सामने आए हैं. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने मंगलवार को यह जानकारी दी.</p> <p style="text-align: justify;"><strong>राज्य में म्यूकोरमाइकोसिस के 2000 से अधिक मरीज</strong></p> <p style="text-align: justify;">उन्होंने कहा कि अब तक राज्य में म्यूकोरमाइकोसिस के 2000 से अधिक मरीज हो सकते हैं और कोविड-19 मरीजों के बढ़ते मामलों के बीच इनकी संख्या में भी अवश्य इजाफा होगा. टोपे ने कहा कि म्यूकोरमाइकोसिस की मृत्यु दर 50 फीसदी है और यह उन क...
Corona

कोरोना काल में कथित अपराधी को मिली राहत, इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा दी जा सकती है अग्रिम जमानत

प्रयागराजः इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सोमवार को एक महत्वपूर्ण फैसले में व्यवस्था दी कि कोविड के मामलों में बढ़ोतरी और जेलों में जरूरत से अधिक भीड़ को देखते हुए आरोपियों, पुलिस और जेल कर्मियों के जान को जोखिम हो सकता है, ऐसे में कथित अपराधी को एक निश्चित अवधि के लिए अग्रिम जमानत दी जा सकती है जिससे जेल के भीतर कोरोना का संक्रमण ना फैले.प्रतीक जैन को मिली अग्रिम जमनातन्यायमूर्ति सिद्धार्थ ने गाजियाबाद के प्रतीक जैन नाम के एक व्यक्ति को एक निश्चित अवधि के लिए अग्रिम जमानत देते हुए यह आदेश पारित किया. जैन धोखाधड़ी के एक मामले में आरोपी है. अदालत ने निर्देश दिया कि यदि जैन को गिरफ्तार किया जाता है तो उसे तीन जनवरी, 2022 तक एक निश्चित अवधि के लिए अग्रिम जमानत पर रिहा किया जाए.कोर्ट ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में जेलों में भीड़ कम करने के लिए हाल ही में कई निर्देश पारित किए...
Corona

अहमदाबाद में हो रही रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी, 12 शीशियों के साथ दो गिरफ्तार

<p style="text-align: justify;"><strong>अहमदाबादः</strong> देशभर में कोरोना संक्रमण के फैलने के साथ ही इसकी रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन का काम किया जा रहा है. वहीं देश के कई हिस्सों से कोरोना के इलाज के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन का इस्तेमाल किया जा रहा है, और कुछ जगहों से इसकी कालाबाजारी की खबरें भी सामने आ रही है. जिसे लेकर प्रशासन काफी सख्त कार्रवाई कर रही है.</p> <p style="text-align: justify;"><strong>रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी</strong></p> <p style="text-align: justify;">अहमदाबाद में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने का प्रयास कर रहे दो व्यक्तियों को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने यह जानकारी दी. रेमडेसिविर एक एंटी-वायरल दवा है जिसका उपयोग व्यापक रूप से कोविड-19 के उपचार में किया जात...
Corona

UP: पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी ने बढ़ाए मदद के हाथ, निजी खर्चे से लेकर पहुंचे ऑक्सीजन सिलेंडर की बड़ी खेप

पीलीभीतः कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद पीलीभीत में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चरमरा गई है. ऑक्सीजन समेत तमाम अन्य चीजों की कमी से जिला जूझ रहा है, ऐसे में सांसद वरुण गांधी ने पीलीभीत की जनता के लिए बड़ी सौगात दी है. बड़ी मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ सांसद वरुण गांधी पीलीभीत पहुंचे हैं. मुम्बई से निजी खर्चे पर ये ऑक्सीजन खुद ला कर पीलीभीत के स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के सुपुर्द कर दिया.सांसद वरुण गांधी ने बढ़ाए मदद के हाथजिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और लगातार मरने वाले आंकड़े भी बढ़ते जा रहे हैं. ऐसे में संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए ऑक्सीजन की बड़ी संख्या में आवश्यकता पड़ती है पर ऑक्सीजन सिलेंडर ना होने के कारण अक्सर स्वास्थ्य विभाग को मशक्कत करनी पड़ती है.ऑक्सीजन सिलेंडरों की खेप लेकर पीलीभीत पहुंचे वरुण गांधीसांसद वर...
Corona

भारत बायोटेक का बयान, एक मई से 18 राज्यों को कोवेक्सीन की सीधी सप्लाई की जा रही है

नई दिल्लीः देश में कई राज्यों की ओऱ से कोरोना वैक्सीन की कमी की शिकायत के बीच भारत बायोटेक ने मंगलवार को कहा कि वह कोविड-19 के टीके ‘कोवेक्सीन’ की नियमित सधी हुई आपूर्ति जारी रखेगा और एक मई से 18 राज्यों को अब तक सीधी आपूर्ति की जा रही है.कोवैक्सीन की हो रही सीधी आपूर्तिभारत बायोटेक ने ट्वीट में कहा, ‘‘एक मई से अब तक 18 राज्यों को कोवेक्सीन की सीधी आपूर्ति की गई है. जिसमे आंध्र प्रदेश, दिल्ली, बिहार, गुजरात, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल शामिल हैं. हम अपने प्रयासों को बिना किसी हिचक के बढ़ाते हुए निरंतर टीके की आपूर्ति जारी रखेंगे.’’टीका विनिर्माता कंपनी वर्तमान में आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, जम्मू और कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, तमिलनाडु, त्रिपुरा, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल को टीके की...