Thursday, January 21News That Matters

Tag: Corona

Corona

CO-WIN एप में अब मिलेगी ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन की सुविधा, स्वास्थ्य मंत्रालय ने रजिस्ट्रेशन नियमों में किया बदलाव

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों में संकोच को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके लिए जारी नियमों में रजिस्ट्रेशन को लेकर कुछ बदलाव किए है. अब राज्यों को वैक्सीन लगवाने के लिए ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी दे दी गयी है. हालांकि पहले से ही दर्ज स्वास्थ्यकर्मियों को इसमें प्राथमिकता दी जाएगी.CO-WIN एप में किए बदलाव इस से पहले CO-WIN एप में ऑन-द-स्‍पॉट रजिस्‍ट्रेशन की व्‍यवस्‍था नहीं थी. अब अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में स्वास्थ्यकर्मियों की कम भीड़ देखते हुए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने इस एप में बदलाव किया है. राज्यों को अब इसमें ऑन-द-स्‍पॉट रजिस्‍ट्रेशन की सुविधा प्रदान कर दी गयी है. कोविड-19 वैक्सिनेशन के एम्पावर्ड ग्रूप के अध्यक्ष डॉ. आर.एस. शर्मा के अनुसार, "हर केंद्र पर रोजाना औसतन 100 लोगों को वैक्सीन लगाने की व्यवस्था की गयी है. लेकिन क...
Corona

Coronavirus: देश में कोरोना के कुल एक्टिव केस 2 लाख से नीचे, 7 महीनों में पहली बार इतना नीचे आया आंकड़ा

नई दिल्लीः भारत में कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट दर्ज की जा रही है. लगातार कम हो रहे कोरोना के मामले देशभर के लिए एक राहत की खबर है. आंकड़ों के अनुसार पिछले  सात महीनों में ये पहला मौका है जब देशभर में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले 2 लाख से नीचे दर्ज किए गए हैं. इस से पहले पिछले साल 26 जून को देश भर में कोरोना मरीजों की संख्या 2 लाख से नीचे दर्ज की गयी थी.देश में हैं 1.97 लाख सक्रिय मामलेदेश में अब तक कोरोना के कुल 1,05,82,647 मामले दर्ज किए गए है. इसमें से 1,02,27,852 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 12,52,493 मरीजों की मौत हो चुकी है. इस समय देश भर में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1.97 लाख है.पिछले 24 घंटों में देश भर में कोरोना के मृतकों की संख्या 150 से भी कम दर्ज की गयी जो आठ महीने की अवधि में सबसे कम है.दिल्ली में तेजी से घट रहे हैं मामले देश की राजधानी दिल...
Health and Lifestyle

My COVID Story: Hydroxychloroquine led to swelling in my whole body – Times of India

Sheethal V contracted COVID and underwent severe body pain and throat ache. While battling with COVID, she got the shock of her life when a rheumatologist diagnosed her of reactive arthritis. Here is how she fought the virus... My name is Sheethal from Bangalore and this is my COVID story. I thought coronavirus is like any other viral fever and should be fine in a couple of days. But it went on for more 4 months with inflammation in the body with pain in ankles, wrists and hips where I was not able to walk and also could not do a small job like opening a door. It all started on Saturday, 8th of August with fever and body pain. I took paracetamol and by end of the day, my body pain became very severe, with bad headache, which made even turning sides a painful activity. I had a terrible h...
Corona

अमेरिका के भावी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज़ लगवाई

वॉशिंगटनः अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सोमवार को कोरोना वाइरस वैक्सीन की दूसरी डोज ली. उन्होंने कहा कि हर अमेरिकी तक जल्द से जल्द ये वैक्सीन पहुंचाना उनके प्रशासन की प्राथमिकता होगी.वैक्सीन लगाने वाली नर्स को कहा शुक्रिया78 वर्षीय बाईडेन डेलवर के नेवार्क स्थित क्रिशचियाना अस्पताल में वैक्सीन की दूसरी डोज लेने पहुंचे. वहाँ मौजूद नर्स ने उनके बायें हाथ में कोविड का इंजेक्शन लगाया जिसके बाद उन्होंने उस नर्स का धन्यवाद किया. बाइडेन ने वैक्सीन की पहली डोज भी इसी अस्पताल में ली थी. वहां मौजूद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि "अमेरिका के हर एक नागरिक तक इस टीके को जल्द से जल्द पहुंचाना उनकी पहली प्राथमिकता है. 3 से 4 हज़ार लोग अब भी इस बीमारी के चलते जान गंवा रहे हैं जो कि गलत है." साथ ही कहा कि कोरोना वैक्सीन की डोज जल्द से जल्द लोगों तक पहुँचे इ...
India

खुद को जवाबदेह बनाएं: किसी आदत को छोड़ने या डालने के लिए जवाबदेही सबसे कारगर टूल है, 4 तरीकों से इसका प्लान बनाएं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप19 मिनट पहलेलेखक: तारा पार्कर पोपकॉपी लिंकशायद ही किसी साल के बीत जाने के बाद उसकी इतनी चर्चा हुई हो, जितनी 2020 की हो रही है। जब कभी भी संकट आता है, हमेशा इंसान नए रास्तों की तलाश में जान लगा देता है। साल 2020 में कोरोना संकट से भी हम सभी ने कई चीजें सीखीं हैं। इन्हीं में से एक है अकाउंटेबिलिटी यानी जवाबदेही।खुद और दूसरों के लिए जवाबदेह होना जीवन का अहम पहलू है। कोरोना को रोकने के लिए हम सभी मास्क पहनने के लिए जवाबदेह थे और हैं। इसके साथ ही हम कम से कम लोगों से मिलने और दूरी बनाकर रखने के लिए भी जवाबदेह थे और हैं। जाहिर तौर पर हम सभी अपनी इस जिम्मेदारी के प्रति जवाबदेह रहे हैं, तभी कोरोना से लड़ाई जीतने के करीब हैं।कोरोना से हमने जवाबदेही का महत्व भी सीखा। एक्सपर्ट्स के मुताबिक हमारी जवाबदेही हमें स्वस्थ रहने में मददगार...
India

आज का कार्टून: कोरोना से इंसान तो बर्ड फ्लू से परिंदे परेशान, मुर्गी कह रही बख्श दो मेरी जान

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Birds out of Corona, bird flu disturbed the birds, even the hen is sparing let my life Source link
Corona

Coronavirus: 24 घंटे में अमेरिका में सामने आए रिकॉर्ड 2.90 लाख नए मामले, 3 हजार से ज्यादा की मौत

Coronavirus: कोरोना वायरस का कहर लगातार काफी तेजी से बढ़ता ही जा रहा है. अमेरिका में कोरोना संक्रमण का सबसे ज्यादा प्रकोप देखा गया है. फिलहाल दुनियाभर में अमेरिका कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है. वहीं बीते 24 घंटे के दौरान यहां रिकॉर्ड 2 लाख 90 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं.सामने आए 2.90 लाख नए मामले जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त राज्य अमेरिका ने कोरोनोवायरस मामलों के लिए एक नया रिकॉर्ड बनाया है. इस बार बीते 24 घंटे में 2 लाख 90 हजार से कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं. कोरोना संक्रमण से हुई मौत के मामले में भी अमेरिका पहले पायदान पर है. यहां अभी तक कुल 3 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण के कारण मारे गए हैं.3 हजार से ज्यादा की मौतबाल्टीमोर स्थित विश्वविद्यालय की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि बीता दिन अमेरिका के...
India

भास्कर ओरिजिनल: विदेश में कमाने वाले भारतीय अब पैसा नहीं भेज पा रहे, कई महीनों तक स्थिति सुधरने के आसार नहीं

Hindi NewsDb originalNRI Money Transfer; How Much Money Does NRI Give ToPunjab Kerala Gujarat Delhi Mumbai Jaipur From UAE USA Saudi Arabia Oman UKAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप4 घंटे पहलेलेखक: अविनाश द्विवेदीकॉपी लिंकभारत वह देश है, जहां विदेशों से लोग सबसे ज्यादा पैसा भेजते हैं, लेकिन इस साल कोरोना के चलते इसमें भारी गिरावट आई है। अप्रैल-जून 2020 की तिमाही में पिछले साल के मुकाबले 16.2 हजार करोड़ रुपए कम भेजे गए। वहीं, जुलाई-सितंबर की तिमाही में यह कमी 17.7 हजार करोड़ रुपए की रही।वर्ल्ड बैंक का अनुमान है कि 2020-21 में विदेशों से भारत भेजे जाने वाली रकम में 9% की गिरावट आएगी, जबकि कई सालों से विदेशों से भारत आने वाला पैसा लगातार बढ़ रहा था। 2019 में भी इसमें 5.5% की बढ़ोतरी हुई थी। कोरोना की वजह से विदेशों में लोगों की नौकरियां चली गईं और ऐसे कई लो...
India

मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ: सरकार और किसानों की बातचीत फिर बेनतीजा, कोरोना के नए स्ट्रेन पर भी असर दिखाएगी वैक्सीन और देश में होगी गौ-विज्ञान की परीक्षा

Hindi NewsNationalTop News Of January 2021| The Talks Between The Government And The Farmers Will Again Show An Impact On The New Strain Of Corona, The Vaccine And The Bio science Examination Will Be Done In The Country.Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप6 घंटे पहलेनमस्कार! देश के 6 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने से चिकन के दाम औंधे मुंह गिरे हैं। ब्रिसबेन टेस्ट को लेकर BCCI और क्वींसलैंड सरकार में ठन गई है। एक्ट्रेस कंगना रनौत से देशद्रोह के मामले में पूछताछ हुई है। बहरहाल शुरू करते हैं न्यूज ब्रीफ।सबसे पहले देखते हैं मार्केट क्या कह रहा हैBSE का मार्केट कैप 195.66 लाख करोड़ रुपए रहा। 53% कंपनियों के शेयरों में बढ़त रही।3,267 कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग हुई। 1,734 कंपनियों के शेयर बढ़े और 1,388 के शेयर गिरे।आज इन इवेंट्स पर रहेगी नजर...प्रधानम...
Career and Education

जॉब ट्रेंड्स: कोरोना के बाद भी जारी रहेगा वर्चुअल इंटरव्यू का दौर, लॉकडाउन में 51 फीसदी स्टाफिंग प्रोफेशनल्स ने ऑनलाइन किया इंटरव्यू

Hindi NewsCareerVirtual Interview Will Continue Even After Corona, 51% Of Staffing Professionals In The Lockdown Did The Interview OnlineAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप21 मिनट पहलेकॉपी लिंकरिमोट जॉब्स के लिए ऑनलाइन इंटरव्यू से हो रही हायरिंग, वर्क फ्रॉम होम के लिए कैंडिडेट्स का अपस्किलिंग पर खास फोकसजॉबवाइट की एक रिसर्च के मुताबिक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जॉब आउटरीच प्रोग्राम जैसे डिजिटल कम्युनिकेशन टूल्स का इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है। इसके मुताबिक 58 फीसदी रिक्रूटर्स अब फेसबुक, लिंक्डइन जैसे सोशल मीडिया नेटवर्क्स का उपयोग कर रहे हैं। दरअसल, महामारी ने न सिर्फ काम के तमाम तौर तरीकों को बदला है, बल्कि नए एम्प्लॉइज की हायरिंग के लिए कई नए इनोवेटिव तरीकों को सामने रखा है।द स्टाफिंग स्ट्रीम डॉट कॉम की एक रिपोर्ट के अनुसार 500 रिक्रूटर्स पर किए गए एक सर्वे ...